याहू 360: एक अच्छा प्रयास

संपादक जी,
Yahoo 360प्रेल २००५ के निरंतर का संपादकीय पढ़ा। अभी कुछ दिन पहले याहू 360 को प्रयोग करने का भी मौका मिला। यह सेवा फिलहाल आम लोगों को उपलब्ध नही है, अभी निमन्त्रण के द्वारा कुछ चुनीन्दा लोगो को ही उपलब्ध कराई गयी है। वैसे तो याहू वैब पर प्रत्येक क्षेत्र मे मौजूद है परन्तु ब्लागिंग की दुनिया मे याहू का यह पहला कदम है। लेकिन इसे केवल ब्लागिंग सेवा कहना उचित नही होगा यह ना केवल ब्लागिंग बल्कि सोशल नैटवर्किंग की सर्विस है, ठीक वैसे जैसे आर्कुट है। अब जब ब्लॉगस्पाट और आर्कुट विरोधी खेमे गूगल में है तो याहू कैसे पीछे रहता। जैसा कि आपने भी लिखा है, देखा जाय तो याहू 360 ब्लॉगस्पाट और आर्कुट का मिला जुला रूप ही है, जिसमे याहू ने अपने हिसाब से अपने बाकी के ताम झाम लगाये है।

प्रथमावलोकन में तो कहा जा सकता है कि यह एक अच्छा प्रयास है, क्योंकि सभी चीजों को समायोजन बहुत ही आसान तरीके से किया गया है। इसमे ब्लॉग, याहू मैसेन्जर, याहू फोटो, याहू ग्रुप और याहू म्यूजिक का समायोजन किया गया है। ये पूरी तरह से यूनीकोड को सपोर्ट करता है, मैने अपना ब्लॉग हिन्दी मे बना कर भी चैक किया है, काफी अच्छा दिखता है। इस उत्पाद की खासियत है कि ये प्रयोग मे बिल्कुल आसान है, यूनीकोड एनकोडिंग सपोर्ट करता है, और याहू फोटो से इन्टीग्रेटेड है। लेकिन दूसरी तरफ कुछ खामियां और सुझाव भी है।

इस उत्पाद की खासियत है कि ये प्रयोग मे बिल्कुल आसान है, यूनीकोड एनकोडिंग सपोर्ट करता है, और याहू फोटो से इन्टीग्रेटेड है।
  • यूनिकोड मे लिखा पैराग्राफ, यदि आपने प्रिव्यू में देखा और वापस एडीटिंग पर आये तो यूनीकोड की जगह उल्टे सीधे अक्षर दिखने लगते है। ये शायद कोई बग है, जो जल्द ही ठीक हो जायेगा।
  • याहू फोटो से इन्टीग्रेशन तो ठीक है, परन्तु फ्लिकर से इन्टीग्रेशन करना ज्यादा अच्छा रहता।
  • अभी ब्लॉग के अन्तर्गत एक ही इमेज डालने का प्रावधान है, इसमे और सुधार की गुन्जाइश है।
  • संपादन के लिये साधारण कन्ट्रोल दिये गये है, पर अभी और सुधार की गुन्जाइश है।
  • याहू ग्रुप का समायोजन, इसमे अभी बहुत अच्छे ढंग से नही किया जा सका है, इसमें भी अभी काफी गुन्जाइश बाकी है।
  • अभी फीड (RSS FEED) पर काम चल रहा है, जल्द ही इसे भी प्रयोक्ताओ को उपलब्ध कराया जायेगा।
  • इसमे फोटो गैलरी, आडियो ब्लाग और वीडियो ब्लाग का समायोजन किया जाये तो बेहतर होगा।

अन्त में मै यह कह सकता हूँ कि प्रथमावलोकन मे याहू 360 ने मुझे काफी प्रभावित किया है और बीटा वर्जन होने की वजह से इस प्रोडक्ट पर अभी काफी सुधार की गुन्जाइश है। आप भी इसका अवलोकन अवश्य करें।

भवदीय,

जितेन्द्र चौधरी

सफलता के नये आयाम स्‍थापित करेगी निरंतर

संपादक जी,

सर्वप्रथम, रेबेका ब्‍लड की पुस्‍तक ‘द वेबलाक हैन्‍डबुक’ भेजने के लिये आभार स्‍वीकार करें। कतिपय कारणों से तत्‍काल सूचना दे पाने में असफल रहा। आशा है आप इसके लिए क्षमा करेंगे।

‘अंर्तजाल’ जैसी आधुनिक संचार सुविधाओं के माध्‍यम से हिन्‍दी भाषा को विश्‍व पटल पर लाने का ‘निरन्‍तर’ का अभियान अत्‍यन्‍त सराहनीय है। इसके अतिरिक्‍त, यह पत्रिका विदेशों में बसे भारतीय मूल के लोगों को आपस में जुड़े रहने का एक अमूल्‍य अवसर भी प्रदान कर रही है।

‘निरन्‍तर’ की अभिकल्‍पना को साकार रुप देने के साहसिक प्रयास में जुटे संपादक मंडल के सभी सदस्‍यों को मैं व्‍यक्तिगत रुप से साधुवाद देना चाहता हूँ। मुझे आशा ही नहीं, विश्‍वास है कि ‘निरन्‍तर’ द्वारा की गई आप की यह शुरूआत आगे चल कर हिन्‍दी पत्रकारिता की एक नयी सभ्‍यता को जन्‍म देगी और सफलता के नये आयामों को स्‍थापित करने में भी सक्षम हो सकेगी।

पुनश्‍च,

शुभकामनाओं सहित,

राजेश कुमार सिंह
(सुमात्रा)

टैग: , ,

टिप्पणीयाँ अब बंद हैं।