टेक्नोराती नये रूप में

ब्लॉग जगत से संबंधित माह की प्रमुख घटनाओं की जानकारी

ब्लॉग जगत से संबंधित माह की प्रमुख घटनाओं की जानकारी देता है हलचल। इस स्तंभ पर अपनी प्रतिक्रिया, समाचार तथा उनकी कड़ी संपादक को भेजने का पता है patrikaa एट gmail डॉट कॉम।

टेक्नोराती नये रूप में

हलचलटेक्नोराती ने अपने जालस्थल पर भारी रद्दोबदल किया है और तकरीबन दो सप्ताह तक बीटा वर्शन रखने के बाद नया रूप आम लोगों के लिये जारी कर दिया है। नये डिज़ाईन में नये चिट्ठाकारों को ध्यान में रखकर बदलाव लाये गये हैं साथ ही टैग प्रकार्य में सुधार हुये हैं। नई सुविधाओं का ज़िक्र यहाँ है। टेक्नोराती ने जापान के लिये भी अलाहदा जालस्थल शुरु किया है। वाकई मनोरम जालस्थल!

एक और नया ब्लॉग एग्रीगेटर

एलेक्स किंग और स्कॉट सैंडर्स ने अंतर्जाल आधारित फीडलाउन्ज नामक एक नया ब्लॉग एग्रीगेटर जारी किया है। यह नये ज़माने का एग्रीगेटर है जिसमें गति और जानदार इंटरफेस का संगम है जो आपको डेस्कटॉप एप्पलीकेशन का एहसास दिलाये और जाल आधारित तंत्रों का फायदा भी दे। एजैक्स, टैगिंग, कीबोर्ड कमांड, सब है फीडलाउन्ज में। लगता है कि एजैक्स, डेस्कटॉप और अंतर्जाल आधारित एप्पलीकेशन के बीच का फासला मिटा कर रहेगा।

स्क्वैक बॉक्स अब स्पेस पर

सी.एन.बी.सी का स्क्वैक बॉक्स कार्यक्रम अब एम.एस.एन स्पेस पर हाज़िर है, शायद यह एम.एस.एन का जवाबी हमला है ब्लॉगर पर। ब्लॉग का शीर्षक है “स्क्वैक ब्लॉग” और टीवी क्रयक्रम की तरह ही यह मूलतः आधारित है निवेश से जुड़े विषयों पर। अब तक लोगों और संस्थाओं के ब्लॉग तो हमने सुने पढ़े थे पर किसी टी.वी कार्यक्रम का अपना ब्लॉग होने का शायद यह पहला मौका होगा।

ब्लॉगलाईंस का बड़ा भंडार

आस्क जीव्स ने हाल ही में घोषणा कि लोकप्रिय एग्रीगेटर ब्लॉगलाईंस के पास अब ५००० लाख चिट्ठों और समाचार प्रविष्टियों का भंडार है। हर दिन ब्लॉगलाईंस तकरीबन २० लाख नये स्रोतों को जोड़ता है, बुनाई पर आधारित ब्लॉग से लेकर लोकप्रिय समाचार पत्रों की फीड तक। इतनी जानकारी और पढ़ने का वक्त इतना कम!

ब्लॉगरों के लिये कानूनी गाईड

जैसे जैसे ब्लॉगिंग का प्रचलन बढ़ता जा रहा है कानूनी पेचीदगियाँ भी बढ़ती जा रही हैं। हम पढ़ते रहते हैं कि कैसे कई ब्लॉगरों को चिट्ठाकारी की वजह से नौकरी से हाथ धोना पड़ा। अब एक ऐसी कानूनी गाईड बनाई गई है जो अमरीका स्थित चिट्ठाकारों के लिये काम की साबित हो सकती है। इसमें इंटलेक्चुअल प्रापर्टी, आनलाईन मानहानी कानून जैसे विषयों पर जानकारी समाहित है।

माईक्रोसॉफ्ट ने ब्लॉग पर लगाई सेंसर की बाँध

खबर है कि माईक्रोसॉफ्ट की एम.एस.एन साईट चीन में ऐसी ब्लॉग प्रविष्टियों पर रोक लगा रही है जिनमें “स्वतंत्रता”, “जनतंत्र”, “मानवाधिकार”, “ताईवान की स्वतंत्रता” या “प्रदर्शन” जैसे शब्दों का प्रयोग किया गया हो। माईक्रोसॉफ्ट का कहना है कि जैसा देस वैसा भेस, हम तो जिस देश में काम करते हैं वहाँ के कानून का पालन करते हैं। चीनी चिट्ठाकारों पर वैसे भी संकट के बादल छाये हैं, उन्हें सरकार के पास अपना ब्लॉग रजिस्टर करवाना पड़ता है। पर खबरें

टाईपपैड पर टिप्पणियों पर नियंत्रण

सिक्स अपार्ट ने अपने नये कदमों की घोषणा की है जिससे कीमत अदा करने वाले टाईपपैड प्रयोक्ताओं को कमेंट व ट्रैकबैक पर प्राप्त होते स्पैम से मुक्ति मिल सकती है। प्रयोक्ताओं को अब कमेंट व ट्रैकबैक को प्रकाशन से पहले देखने और उपयुक्त पाने पर ही प्रकाशित करने की सुविधा मिलेगी।

और चलते चलते…

बिना लिखे कैसे लिखें ब्लॉग?

बड़ा आसान हैं! सामग्री की चोरी कीजिये। सामग्री चोरी का मुद्दा नया नहीं है, इसके पीछे लोकप्रियता और गूगल एडसेंस जैसे माध्यमों से पैसे बनाने के रास्ते खुल सकते हैं। ऐसी ही एक सुविधा ब्रेट फूगल नामक एक व्यक्ति ने “ब्लॉग पॉवर” के नाम से बनाई है। इसे ऐसा नया ब्लॉगिंग सॉफ्टवेयर बताया जा रहा है जो किसी को भी आसानी से और फुर्ती से कीवर्ड आधारित खोज कर पराई आर.एस.एस फीड से अपने ब्लॉग में आटोमैटिक रूप से प्रकाशित करने की सुविधा देता है। सीनाजोरी के साथ चोरी के लिये भी तंत्रांश, क्या बात है!

समाचार संकलन व पुनर्लेखनः देबाशीष चक्रवर्ती

टैग: ,

टिप्पणीयाँ अब बंद हैं।